विधवा हूँ दामाद ने मुझे प्रेग्नेंट किया जनिये मेरी सच्ची कहानी

सास दामाद सेक्स कहानी, Son-in-law and Mother-in-law Sex Story, Sas aur Damad ki Sex Story, सास और दामाद की चुदाई की कहानी हिंदी में, दामाद ने सास को चोदा चुदाई की कहानी, ससुराल में चुदाई, ससुराल सेक्स स्टोरी, ससुराल में सास को चोदा, सास को गर्भवती किया


दोस्तों मैं काजल, मेरी उम्र 38 साल है, मेरी बेटी जिसकी शादी को अभी एक साल हुए है, मैंने अपनी बेटी की शादी 18 साल की ही उम्र में ही कर दी क्यों की पति नहीं हैं उनका देहांत हो गया है। घर में मेरा कोई सहारा नहीं है इसलिए मैंने पूजा की शादी जल्दी कर दी ताकि वो अपने घर चली जाये।

मेरी बेटी शादी के बाद दिल्ली चली गई थी। वह से 15 दिन बाद ही फ़ोन आ गया की माँ मुझे यहाँ मन नहीं लगता है क्यों की आपके दामाद जी मुझे बहुत मरते हैं और तंग करते है।  वो कहते हैं दहेज़ लाओ नहीं तो मैं तुम्हे छोड़ दूंगा।  ये सब जानने के बाद मैं अपने बेटी से मिलने दिल्ली चली गई और फिर बात की। पर सब कुछ ठीक नहीं रहा और झगड़ा बढ़ गया। मेरा दामाद हरामी निकला वो दहेज़ का मांग करने लगा। मैं क्या करती मैं अपनी बेटी को लेकर मैं अपने बहन के यहाँ ग़ज़िआबाद आ गई। दूसरे दिन मेरे दामाद का फ़ोन आया की माँ जी आओ आपसे बात करनी है। मैं अपनी बेटी को अपने बहन के यहाँ ही छोड़कर दूसरे दिन सुबह अपने दामाद के यहाँ चली गई।

मैं अपने दामाद  साफ़ साफ़ कह दी की देखो दामाद जी मेरे पास कुछ ही नहीं है आपको देने के लिए मेरे पास को भी बैंक बैलेंस नहीं है मेरे पास आपको जो भी लगता है वो ले लो। तो दामाद जी बोले मैं सामान थोड़ी ना मांग रहा हु मैं तो वही मांग रहा हु जो आपके पास है। और वो मेरी चूचियों को निहारने लगा और दांत अपने होठ पर दबाने लगा। मैं समझ गई की साला ये हरामी है ये मुझे चोदना चाहता है। पर मेरे पास और कोई चारा नहीं था मैं सोची चलो अपनी बेटी के लिए ये भी कर लेते हैं। मैं बोल दी ठीक है आपको जो चाहिए ले लो। तो वो बोलै खोलेगी तब तो लूंगा। मन भी मन बहुत ही ज्यादा गुस्सा हो रही थी और फिर मैं अपने आँचल को निचे गिरा दी ब्लाउज में से बड़ी बड़ी चूचियां झांक रही थी मेरा दामाद मेरे पुरे बदन को निहारते हुए मेरे कभी आ गया और वासना भरी निगाहों से मेरे चूचियों की तरफ देखा और फिर ब्लाउज का हुक खोलने लगा लगा और धीरे धीर वो तुरंत ही मेरा ब्लाउज और ब्रा खोल दिया और मेरी चूचियों को दबाने लगा.

उसके बाद वो मुझे अपने कमरे में ले गया और फिर पूरी साडी और पेटीकोट उतार कर फेंक दिया और अपने कपडे भी उतार लिए। फिर मेरे पुरे शरीर को चाटने लगा वो कभी मेरी चूचियों को पीता तो कभी मेरी चूत चाटता। वो कभी मेरे होठ को चूसता तो कभी मेरे जिस्म पर हाथ फेरता।  धीरे धीर वो मुझे भी पागल कर दिया और फिर मैं भी जवान लौंडे को अपने बाहों कम भर ली।  और मैं भी चूमने लगी और अपना चूची पिलाने लगी। फिर अपना चूत चटवाया, वो खूब चाटा मेरे बदन को फिर अपना मोटा लौड़ा  निकाल कर मेरे चूत के ऊपर रखकर कस के ठोंक दिया और जोर जोर से चोदने लगा, मैं भी साथ देने लगी और मैं चुदवाने लगी। अब कमरे में फच फच की आवाज आने लग और मेरे मुँह से सिसकियाँ निकलने लगी।  हम दोनों पसीने पसीने हो गए।  पर अपना लौड़ा मेरी चूत पर रगड़ता फिर गांड पर रगड़ता।  दोस्तों ये कहानी आप कहानी एक्स डॉट कॉम पर पढ़ रहें हैं।  फिर हम  दोनों खुल गए और फिर एक दूसरे को सहयोग करते हुए कभी मैं निचे जाते कभी वो कभी मैं ऊपर कभी वो।  कभी तो गांड में पेलता तो कभी चूत में कभी मुँह में।  सच पूछूं तो मजा आ गया।

बाद में सोची इतनी सी बात से मेरी बेटी का ज़िंदगी खराब हो रहा था।  फिर हम दोनों ग़ज़िआबाद गए और अपनी बेटी को लेके आये।  मेरा दामाद लिखित में दिया है की कभी परेशानी नहीं होगी मैं आपकी बेटी को बहुत खुश रखूँगा और साथ साथ आपको भी किसी चीज की कमी नहीं होने दूंगा।

दोस्तों वो सच बोला था अब हम दोनों को कोई दिक्कत नहीं होती है बहुत खुश है। मैं भी अपने दामाद के पास ही रह रही हु।  जाऊं अब मेरी बेटी को दामाद जी प्यार करते ही नहीं पर मुझे भी पत्नी से कम नहीं मानते हैं।  जब भी मेरी बेटी स्कूल जाती है पढ़ाने क्यों की वो नौकरी कर ली है।  दिन में हम दोनों साथ होते हैं और एक दूसरे को खुश करते रहते हैं।  पर इधर गड़बड़ हो गई है वो बिना कंडोम के मुझे चोदता है इस वजह से इस बार मुझे माहवारी नहीं हुई है मैंने किट लेकर घर पर चेक किया तो पता चला मैं प्रेग्नेंट हु।  दोस्तों अब मैं अपने दामाद के बच्चे की माँ बनने बाली हु। पर सोच रही हु एबॉर्शन करवा लूँ क्यों की मैं मजे लेना चाह रही हु, ऐसे भी दामाद के बच्चे को जन्म थोड़े न दूंगी।  उसके लिए तो मेरी बेटी है।

आपको मेरी ये कहानी कैसी लगी प्लीज कमेंट करें और वेबसाइट पर रोज विजिट करें नयी नयी चुदाई की कहानिया आपको पढ़ने को मिलेगी।

आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

Spread the Hot Story
loading...

One thought on “विधवा हूँ दामाद ने मुझे प्रेग्नेंट किया जनिये मेरी सच्ची कहानी”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *